बैंक अकाउंट कितने प्रकार के होते है?

लोग अपनी जरूरत के हिसाब से बैंक अकाउंट ओपेन कराते है हम बात करने वाले बैंक अकाउंट कितने प्रकार के होते है? जी हां दोस्तो अक्सर किसी बैंक मे जब हम अपना खाता ओपेन कराने जाते है तो बैंक की तरफ से फार्म भरने के लिए दिया जाता है उस फार्म पर एक ऑप्शन ये भी भरना होता है आप किस तरह का अकाउंट ओपेन करना चाहते है नये लोगो को समझ नही आती और कुछ भी भर देते है चलिए आज इसी पर बात करते है यदि आपको भी पता नही है बैंक अकाउंट कितने तरह का होता है? तो आपको अवश्य जानना चाहिए क्योंकि कभी न कभी आपके सामने भी ऐसी स्थिति आ जाए तो अगर आपको पहले से पता होगी तो फार्म भरने और बैंक खाता के प्रकार चुनने मे आसानी होगी-


बैंक अकाउंट कितने प्रकार के होते है?
बैंक अकाउंट कितने प्रकार के होते है?



ये भी पढे- एटीएम कार्ड कितने प्रकार के होता है?

ये भी पढे- एसबीआई डेबिट कार्ड कितने प्रकार के होता है?


यहां नीचे पढे बैंक खाता कितने तरह के होता है?


1- बचत खाता (Saving Account)

2- चालू खाता (Current Account)

3- आवर्ती जमा खाता (Recurring Deposit Account)

4- सावधि जमा खाता (Fixed Deposit Account)



बचत खाता (Saving Account


सेविंग अकाउंट की बात किया जाए तो यह अकाउंट सबसे ज्यादा आम लोगो के द्वारा ओपेन कराया जाता है इस अकाउंट मे छोटी छोटी रकम जब चाहे तब जमा कर सकते है तथा आवश्यकता परने पर निकाल भी सकते है इस अकाउंट मे जमा रूपए पर सालाना ब्याज दिया जाता है तथा इस अकाउंट के फैसिलिटी की बात करे तो चेक बुक, एटीएम कार्ड, इंटरनेट बैंकिग, मोबाईल बैकिंग की सुविधा दी जाती है!



चालू खाता (Current Account)


चालू अर्थ से ही पता चलता है लेन-देन की कोई सिमा नही होती चालू खाते मे प्रतिदिन जब चाहे उतना जमा और निकाल सकते है इस अकाउंट मे रखे रूपए पर ब्याज नही मिलता है इस अकाउंट को खासकर विजनेस मैन, बड़े-छोटे कंपनी वाले ओपेन कराते है क्योंकि जमा और निकासी मे कोई दिक्कत ना आये इस अकाउंट के लिए भी चेक बूक, एटीएम कार्ड, मोबाईल बैकिंग, इंटरनेट बैंकिग की सुविधा के साथ-साथ अन्य सुविधा भी बैंक की तरफ से प्रोवाइड करवाया जाता है ताकी विजनेस मैन लोगो को लेन-देन करने मे परेशानी नही आये!



आवर्ती जमा खाता (Recurring Deposit Account)


इस अकाउंट के लिए सेविंग अकाउंट से ज्यादा ब्याज बैंक की तरफ से दिया जाता है इसमे छोटी छोटी राशी डाल तो सकते है लेकिन निकाल नही सकते क्योंकि निकालने की समय फिक्स होता है समय सिमा पूरा होने पर निकाल सकते है फिर भी यदि कोई जरूरत हो जाने पर तय समय से पहले निकालने के लिए सरेंडर करना होता है!



सावधि जमा खाता (Fixed Deposit Account)


ये खाता वे लोग ओपेन कराते है जिन्हे पैसे निकालने की जल्दी नही होती है फ्यूचर के लिए सोचते है जैसे की बच्चो की शादी, पढ़ाई इत्यादी मे काम आ सके शायद आप इस खाते के फिक्स डिपोजिट से समझ गये होगे एक बार फिक्स कर देने के उपरांत तय समय का इंतजार करना होता है फिर भी इमर्जेंसी मे तोड़ने के लिए बैंक मे अप्लिकेशन देकर बंद कराकर पैसे ले सकते है!



नोट- भारत मे अनेक बैंक है जो विभिन्न प्रकार के अकाउंट ओपेन के बारे मे बताते है लेकिन मैने मुख्य बैंक अकाउंट के विषय आपके समक्ष प्रस्तुत किये है जो प्रचलित अकाउंट सभी बैंक द्वारा ओपेन कराया जाता है!

Post a Comment

Previous Post Next Post