ईमेल मे CC और BCC का मतलब क्या है पूरी जानकारी

ईमेल मे CC और BCC का मतलब क्या होता है पूरी जानकारी जी हां दोस्तों बहुत ऐसे लोग है जो ईमेल आईडी का इस्तेमाल करते है परंतु उनको ईमेल मे दिया गया CC और BCC क्या होता है उन्हें पता नही होता है इस आर्टिकल मे हम CC और BCC का फूल फ़ार्म क्या होता है तथा CC और BCC का क्या उपयोग है इसपर विस्तार से चर्चा करेंगे अगर सच मे आपको भी पता नही है ईमेल मे CC और BCC क्या होता है तो हमारे साथ बने रहे है तभी आप भी ईमेल आईडी के हर सिस्टम को सही से समझ पाएंगे और किसी को ईमेल भेज सकेगे-


ईमेल मे CC और BCC का मतलब क्या है पूरी जानकारी
ईमेल मे CC और BCC का मतलब क्या है पूरी जानकारी


ये भी पढ़े- ईमेल और जीमेल मे क्या अंतर है?

ये भी पढ़े- Puk Blocked क्या होता है पूरी जानकारी


नीचे पढ़े ईमेल मे CC और BCC क्या होता है?


दोस्तों जब आप ईमेल एप्लिकेशन को ओपेन करते है तथा Compose पर क्लिक करते है तो आपको कुछ इस तरह से Options दिखाई देगा जैसे कि From, To, Subject, Compose Email और यदि To पर Click करते है तो आपको CC और BCC का Option भी मौजूद मिल जाता है इस आर्टिकल मे हम CC और BCC के बारे मे बताएगे ही साथ साथ From, To, Subject और Compose Email के विषय पर भी विस्तार से चर्चा करेंगे!


सबसे पहले ईमेल मे From, To क्या होता है जानिये


यदि आप अपना या किसी का पत्र लिखे होगे तो आपको निश्चित ही पता होगा भेजने वाले कि ओर से From मे Address लिखा जाता है और पत्र किसको भेजना है पत्र पाने वाले के लिए To मे उसका Address लिखा जाता है ठिक इसी प्रकार ईमेल लिखने के उपरांत From के Option पर जो व्यक्ति ईमेल टाईप कर रहा है उनका ईमेल एड्रेस रहना चाहिए तथा To के Option पर जिस व्यक्ति को ईमेल भेजा जा रहा है उसका ईमेल एड्रेस आवश्यक होता है!


Subject और Compose Email का मतलब जानिये


Subject और Compose Email की बात किया जाये तो आप किस विषय मे ईमेल लिख रहे है उस विषय का टाईटल संक्षेप मे लिख सकते है तथा Compose Email के Option पर विस्तार से अपनी बातें टाईप कर सकते है तथा Memory Photo, Document, इत्यादि Compose Email मे अपलोड कर सकते है इस तरीके से आपका ईमेल तैयार हो जाता है चलिए अब मुद्दे पर आते है नीचे CC और BCC के विषय मे भी जानने की कोशिश करते है!


अब जानिये CC और BCC का क्या यूज़ है?


दोस्तों To का मतलब आप समझते ही होगे ईमेल किसको भेजा जा रहा है उसका ईमेल एड्रेस टाईप किया जाता है अब यदि To के साईड कार्नर पर क्लिक करते है तो आपको CC और BCC का Option भी मिल जाती है CC का Full Form होता है Carbon Copy आप चाहेगे तो To की जगह जिस व्यक्ति को ईमेल भेज रहे है ईमेल का Copy बना सकते हो मतलब CC वाले व्यक्ति को ईमेल Copy भेज सकते है इसके लिए CC के Option पर उस व्यक्ति का ईमेल एड्रेस डालना होता है एक बात याद रखे CC वाले व्यक्ति को ईमेल की काॅपी दिये हो ये To वाले व्यक्ति को पता होता है अब BCC की Full Form की बात किया जाये तो इसका मतलब Blind Carbon Copy होता है इस Option पर भी किसी तिसरे व्यक्ति का ईमेल एड्रेस डालते है तो आपका ईमेल To, CC और BCC तीनो अलग-अलग ईमेल एड्रेस पर जाएगा परंतु BCC वाले व्यक्ति को वही ईमेल भेजा है वो ना तो To वाले व्यक्ति को पता चलेगा और ना ही CC वाले व्यक्ति को पता चलेगा!


नोट- दोस्तों शायद आप समझ गये होगे ईमेल मे CC और BCC क्या इस्तेमाल है यदि अभी भी कोई कंफ्यूजन है तो आप कमेन्ट बाक्स मे कमेन्ट द्वारा पुछ सकते है!