यूको बैंक सेविंग अकाउंट की जानकारी

आपका हमारे हिन्दी ब्लॉग पर स्वागत है यदि आप भी जानना चाहते हैं यूको बैंक सेविंग अकाउंट के बारे मे तो संपूर्ण आर्टिकल को जरूर पढ़े दोस्तों आपलोग शायद जानते होगे किसी भी बैंक मे अकाउंट मतलब खाता खुलवाने जाते है तो आपको एक फ़ार्म दिया जाता है उस फ़ार्म मे ऑप्शन भरने को कहा जाता है कि आपको सेविंग अकाउंट या करंट अकाउंट ओपेन कराना है ये आपको चूनना होता है सबसे पहले ये भी जान ले कि बैक में अकाउंट कई तरह के खोला जाता है मगर इस आर्टिकल मे सिर्फ बात करने वाला हूँ सेविंग अकाउंट के बारे मे तो चलिए बात करते है सेविंग अकाउंट का अर्थ बचत खाता होता है भारत मे सबसे ज्यादा सेविंग अकाउंट लोग ओपेन कराते है सेविंग अकाउंट खुलवाने वाले ज्यादातर लोग रोज कमाने खाने या सैलरी पर निर्भर वाले आम लोग होते है जो कुछ पैसा बचाकर अपने सेविंग अकाउंट बचत खाता मे जमा करते है और ज़रूरत परने पर निकालते भी है भारत मे अनगिनत बैंक है सभी बैंको का अलग अलग नियम और फायदे होते है जो कि क्रमशः लगभग बराबर ही होता है दोस्तों आज के समय मे हर एक व्यक्ति का किसी ना किसी बैंक मे खाता जरूर होता है इस आर्टिकल मे मै यूको बैंक सेविंग अकाउंट के बारे मे बात करूंगा यदि आप यूको बैंक मे सेविंग अकाउंट ओपेन करना या फायदे नुकसान के बारे मे विस्तार से जानकारी चाहते है तो नीचे पढ सकते है-

यूको बैंक सेविंग अकाउंट की जानकारी
यूको बैंक सेविंग अकाउंट की जानकारी


यूको सेविंग अकाउंट ओपेन कराने के लिए जरूरी दस्तावेज-

1. आधार कार्ड (Aadhar Card)
2. पेन कार्ड (Pen Card)
3. बिजली बिल (Electricity Bill)

जी हां अगर आप किसी शहर के मूल निवासी हो उस शहर मे किसी यूको बैंक ब्रांच मे सेविंग अकाउंट ओपेन कराने के लिए आधार कार्ड, पेन कार्ड ही काॅफी है और यदि आप उस शहर के मूल निवासी नही है तो आधार कार्ड, पेन कार्ड साथ साथ जिसके मकान मे किराये पर है उस मकान मालिक के बिजली बिल यूको बैंक की तरफ से मांगे जाते है लेकिन कुछ दिनो से यूको बैंक की तरफ से मूल निवासी हो या किरायेदार सभी से बिजली बिल भी लेना अनिवार्य कर दिया है खाता ओपेन कराने के लिए अधिकतर बैंक एक निश्चित राशि जमा करवाती है सभी बैंक अपना अपना निश्चित राशि 500 से लेकर 5000 तक रखी हुई है, यूको बैंक की शाखाएं अभी के समय मे अधिकांस शहर मे ही है गाँव मे इनकी ब्रांच शायद ही होगे!

सबसे पहले जानिये यूको बैंक मे सेविंग अकाउंट ओपेन कराने के फायदे-

अन्य बैंको कि तरह यूको बैंक कि तरफ से भी सेविंग अकाउंट मे जमा रूपय पर सालाना क्रमशः 3 से 4 प्रतिशत ब्याज दिया जाता है तथा यूको बैंक मुख्यतः निम्नलिखित प्रकार कि सुविधा देती है नीचे पढ सकते है..

1. Atm Card- शायद आप लोग जानते होगे एटीएम कार्ड क्या होता है नहीं पता तो संक्षेप मे जान लीजिए डेबिट कार्ड को ही एटीएम कार्ड कहा जाता है यूको बैंक अपने ग्राहकों को दो तरह का डेबिट कार्ड प्रदान करती है पहला रूपय डेबिट कार्ड और दूसरा वीज़ा डेबिट कार्ड रूपय या वीज़ा डेबिट कार्ड के इस्तेमाल से एटीएम मशीन से पैसे निकालने आनलाईन खरीदारी मे पेमेंट, स्वैप मशीन के जरिए पेमेंट इत्यादि आसानी से कर सकते है मगर एक बात ये भी समझ लीजिये रूपय डेबिट कार्ड का इस्तेमाल सिर्फ भारत मे कर सकते है मगर वीज़ा डेबिट कार्ड का उपयोग भारत और विभिन्न अंतरराष्ट्रीय देशो मे भी कर सकते है, यूको बैंक चेकबूक जैसी सुविधाएं भी देती है!

Netbanking & Mobile Banking- यूको बैंक अपने ग्राहकों को नेटबैंकिग मोबाइल बैंकिग का भी सुविधा देती है इसके जरिये फंड ट्रांसफर मोबाइल रीचार्ज, डिटिएच रीचार्ज, पैसो का आदान प्रदान अन्य इत्यादि का लाभ मिलता है!

अब जानिये यूको बैंक सेविंग अकाउंट से होने वाली नुकसान-

यूको बैंक द्वारा निर्धारित न्यूनतम राशि हमेशा अपने सेविंग अकाउंट मे रखना होता है ऐसा ना करने पर बैंक के द्वारा चार्ज लगाया जाता है तथा डेबिट कार्ड के द्वारा एटीएम मशीन से महीने मे पांच ट्रांजैक्शन कर सकते है फ्री है अतिरिक्त बार पैसे निकालने के स्थिति मे भी बैंक चार्ज करता है सीधे आपके अकाउंट से पैसे कट कर दिए जाते है दोस्तों मैने मुख्य जानकारी आर्टिकल के माध्यम से यूको बैंक सेविंग अकाउंट से होने वाली फायदे और नुकसान के बारे मे बताने की कोशिश कि है यदि आपको अच्छा लगा हो तो शेयर कमेन्ट जरूर करे धन्यवाद