सब डोमेन और कस्टम डोमेन नेम मे क्या अंतर है?

यदि आप अभी अभी Blogging करना चाहते हो खूद के लिए ब्लॉग बना कर उस पर आर्टिकल शेयर करके पैसे कमाना चाहते हो तो सबसे पहले बेहद जरूरी होता है सब डोमेन और कस्टम डोमेन नेम के बारे मे अच्छी तरह जान लेना दोस्तों आपका हमारे हिन्दी ब्लॉग पर बहुत बहुत स्वागत है इस आर्टिकल मे मै विस्तार से आपको बताने जा रहा हूं सब डोमेन और कस्टम डोमेन नेम क्या होता है और इनमे क्या अंतर है तो चलिए बिनां टाईम गँवाए बात करते है संपूर्ण आर्टिकल जरूर पढ़े और सब डोमेन कस्टम डोमेन नेम के बारे मे जानिये-

सब डोमेन और कस्टम डोमेन नेम मे क्या अंतर है?
सब डोमेन और कस्टम डोमेन नेम मे क्या अंतर है?



सबसे पहले विस्तार से जानिये डोमेन नेम (Domain Name) क्या होता है?

आईये पहले जानिये साधारण तरीके से जब कोई व्यक्ति आपसे दूर होता है तो उससे बात करने के लिए उसके मोबाइल नंबर पर फोन लगाते है उससे बात हो जाती है इसी प्रकार गूगल सबसे बड़ा सर्च इंजन है अनगिनत ब्लॉग वेबसाइट्स गूगल सर्च इंजन मे है किसी ख़ास व्यक्ति के ब्लॉग वेबसाइट्स पर पहुंचने के लिए होम पेज लिंक का जानकारी होना आवश्यक है आप आसानी से उसके वेबसाइट पर पहुँच जाते है उस वेबसाइट का हमपेज लिंक यूआरएल एक डोमेन नेम होता है डोमेन नेम मुख्यतः दो प्रकार के होता है नीचे पढ़े सब डोमेन और कस्टम डोमेन मे अंतर क्या है..


चलिए अब बात करते सब डोमेन (Subdomain) क्या है? उसके बाद फिर बताएगें कस्टम डोमेन (Custom Domain) क्या है? आप समझ जाएंगे दोनो मे क्या अंतर होता है-

दोस्तों अगर आप डोमेन नेम के बारे मे यहाँ पर जानने के लिए आये है तो हमे पता है आप अपने लिए ब्लॉग बना कर उस ब्लॉग पर अपना नाॅलेज शेयर करके पैसे कमाना चाहते है अगर ब्लॉग बनाने कि बात करे तो आजकल बहुत ऐसे साईटस है जिसपर ब्लॉग बना सकते है मगर अभी के समय मे दो प्लेटफॉर्म सबसे पपूलर है पहला blogger दूसरा Wordpress अगर फ्री मे ब्लॉग बनाने कि बात करे तो आप blogger पर फ्री मे ब्लॉग बना सकते है Blogger गूगल द्वारा बनाई गई फ्री प्लेटफॉर्म है इसपर सर्वर और डोमेन नेम दोनो फ्री इस्तेमाल गूगल कि तरफ से दिया जाता है अगर आप www.blogger.com पर ब्लॉग बनाते है तो आपको फ्री मे जो डोमेन इस्तेमाल करने के लिए दिया जाता है उस डोमेन नेम को सब डोमेन कहा जाता है कई और भी फ़्री प्लेटफॉर्म है उस साईट पर ब्लॉग बनाने के लिए फ्री डोमेन नेम मिल जाता है जैसे कि कुछ प्लेटफॉर्म नीचे देख सकते है अगर इस प्लेटफॉर्म पर ब्लॉग बनाएगे तो आपके ब्लॉग वेबसाइट्स सब डोमेन का उआरएल कुछ इस प्रकार बनेगा जैसे कि मेरा नाम Rakesh है तो यूआरएल (सब डोमेन) बनेगा..




यहाँ अब नीचे पढ़े कस्टम डोमेन (Custom Domain) 

सब डोमेन नेम गूगल द्वारा फ्री मे मिल जाता है मगर कस्टम डोमेन के साथ अपना ब्लॉग/वेबसाइट बनाने के लिए पैसे खर्च करने के बाद हि मिलता है अनेक साईटस है जिसपर जाकर कस्टम डोमेन नेम खरीद सकते है एक कस्टम डोमेन नेम कि किम लगभग 400-500 एक साल के लिए मिल जाता है कस्टम डोमेन कि पहचान होती है जैसे- .com, .in, .org, .net इत्यादि, Wordpress.org पर ब्लॉग बनाने के लिए कस्टम डोमेन नेम आवश्यक होता है उसके साथ Hosting का भी होना जरूरी हो जाता है दोस्तों यदि ब्लॉगिग के बारे मे और भी जानना चाहते है तो हमारे हिन्दी ब्लॉग के Categories मे जाए और अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है, Note:- एक बात याद रखे ब्लॉग वेबसाइट्स से पैसे कमाने के लिए गूगल ऐडसेंस को ब्लॉग से लिंक करना होता है गूगल ऐडसेंस एक एडवरटाइजिंग नेटवर्क है इसके विज्ञापन इसे ब्लॉग से लिंक करने और अपने ब्लॉग वेबसाइट्स पर इसके विज्ञापन चलाने के उपरांत ही पैसा कमाये जाते है Blogger पर सब डोमेन (Subdomain) के साथ ब्लॉग बनाने पर गूगल ऐडसेंस विज्ञापन नेटवर्क का Hosted Adsense Account दिया जाता है इस अकाउंट के जरिए आपको 45% और गूगल ऐडसेंस विज्ञापन नेटवर्क अपने पास 55% रूपय रखता है तथा Blogger या Wordpress पर कस्टम डोमेन नेम (Custom Domain Name) के साथ ब्लॉग बनाने पर ऐडसेंस अप्रूवल मे Non Hosted Account मिलता है जो कि गूगल ऐडसेंस अपने पास 32% और आपको 68% रूपय दे देता है दोस्तों अगर आप कंन्फूज है गूगल ऐडसेंस क्या होता है तो हमारे ब्लॉग मे इसपर आर्टिकल मौजूद है आप गूगल ऐडसेंस के बारे मे भी पढ सकते हैं यदि आप कुछ पुछना चाहते है ब्लागिंग के बारे मे तो नीचे कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट के जरिए पूंछ सकते है !!!!