सब डोमेन क्या होता है?

Hello दोस्तों यदि आप जानना चाहते है सब डोमेन (Subdomain) क्या होता है? तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़े जैसा कि आपलोग सुना होगा इंटरनेट पर खूद का ब्लॉग/वेबसाइट बनाकर उसपर अपना नाॅलेज आर्टिकल के माध्यम से शेयर करके पैसे कमाया जाता है सब डोमेन (Subdomain) भी एक ब्लॉग का अहम हिस्सा मतलब नाम एड्रेस होता है जिसे सर्च इंजन मे सर्च करके उस साईटस पर पहुँच सकते क्या क्या उस ब्लॉग वेबसाइट्स पर जानकारी है प्राप्त कर सकते है अगर हम बात करे ब्लॉग/वेबसाइट बनाने कि तो ब्लॉग पैसे खर्च करके भी बनाया जाता है और बिनां पैसे खर्च किये भी ब्लॉग बनाया जा सकता है सबसे पहले डोमेन कि बात करे तो डोमेन एक नाम एड्रेस कि तरह होता है जैसे कि किसी व्यक्ति से बात करने के लिए उसके मोबाइल नंबर को डायल करने पर उससे बात हो जाती है ठिक उसी तरह किसी भी व्यक्ति कि ब्लॉग/वेबसाइट पर पहुंचने के लिए उसके डोमेन नाम का पता होना आवश्यक है तभी सर्च इंजन मे उस डोमेन एड्रेस को सर्च करने पर उस व्यक्ति के ब्लॉग पर पहुँच सकते है और जान सकते है उसके ब्लॉग पर क्या क्या जानकारीया है और किस प्रकार कि जानकारीया देता शेयर करता है डोमेन क्या होता है शायद आप जानते होगे या इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद पूरी तरह डोमेन के बारे मे समझ जाएगे नीचे पढ़े और विस्तार से जानिये-


सब डोमेन क्या होता है - What Is Subdomain In Hindi
सब डोमेन क्या होता है - What Is Subdomain In Hindi





विस्तार से जानिये डोमेन नेम क्या होता है?


जैसा कि मैने उपर मे बता दिया है डोमेन नेम एक Ip Address होता है इस एड्रेस को सर्च इंजन मे सर्च करके व्यक्ति कि साईटस पर पहुँचा जा सकता है डोमेन नेम मुख्यतः दो प्रकार के होता है-


1. सब डोमेन (Subdomain)
2. कस्टम डोमेन (Custom Domain)



1. सब डोमेन (Subdomain)


जैसे कि मेरा नाम राकेश कुमार है तो आप अपने नाम या अन्य नाम से भी सब डोमेन एड्रेस बना सकते है सब डोमेन एड्रेस कि पहचान उसके अंत के Blogspot निश्चित लगा होता है- blogspot.com यदि मै अपना नाम एड करूंगा तो डोमेन एड्रेस rakesh.blogspot हो जाएगा, www.blogger.com साईट गूगल द्वारा बनाया गया फ्री प्लेटफॉर्म है जिसे Blogger साईट भी कहा जाता है Blogger पर फ्री मे सब डोमेन के साथ ब्लॉग बनाया जा सकता है!


2. कस्टम डोमेन (Custom Domain)


सब डोमेन नेम गूगल द्वारा फ्री मे मिल जाता है मगर कस्टम डोमेन के साथ अपना ब्लॉग/वेबसाइट बनाने के लिए पैसे खर्च करने के बाद हि मिलता है अनेक साईटस है जिसपर जाकर कस्टम डोमेन नेम खरीद सकते है एक कस्टम डोमेन नेम कि किम लगभग 400-500 एक साल के लिए मिल जाता है कस्टम डोमेन कि पहचान होती है जैसे- .com, .in, .org, .net इत्यादि, Wordpress पर ब्लॉग बनाने के लिए कस्टम डोमेन नेम आवश्यक होता है उसके साथ Hosting का भी होना जरूरी हो जाता है, दोस्तों यदि ब्लॉगिग के बारे मे और भी जानना चाहते है तो हमारे हिन्दी ब्लॉग के Categories मे जाए और अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त करे!!!!